Share Market and Crypto Market

यदि आप पैसा इन्वेस्ट करने और फाइनेंसियली ग्रो करने के तरीकों की तलाश कर रहे हैं। तो आप क्या चुनते हैं? आप स्टॉक और शेयर बाजार में से किस विकल्प के लिए जाएंगे क्या आप भविष्य के इन्वेस्टमेंट ऑप्शन को चुनेंगे और क्रिप्टोकोर्रेंसी खरीदेंगे? हालांकि लोग बहुत लंबे समय से शेयर बाजार में निवेश कर रहे हैं, लेकिन क्रिप्टोकोर्रेंसी और क्रिप्टो निवेश अभी भी उनके लिए नया है और लोग अभी भी इनके बारे में सीख रहे हैं। कुछ समय पहले तक क्रिप्टो के बारे में लोगों को पता नहीं था और हाल ही में निवेशकों ने इसका फायदा उठाना शुरू किया है।

वैसे तो क्रिप्टो और स्टॉक दोनों बहुत अलग हैं चाहे आप एक बिगिनर हो या एक अनुभवी निवेशक हों। तो, आइए इनके बीच के अंतर पर चर्चा करें।

Stock क्या है?

इन्हे शेयरों के रूप में भी जाना जाता है और ये एक कंपनी में इक्वलिटी ऑफ़ ओनरशिप का प्रतिनिधित्व करते हैं। कई मामलों में, स्टॉक मालिक कंपनी के मुनाफे के हिस्से के हकदार होते हैं। इनको स्टॉक एक्सचेंजों पर खरीदा, बेचा या कारोबार किया जा सकता है जैसे – National Stock Exchange, Bombay Stock Exchange आदि।

Stock value इस बात पर निर्भर करता है कि कंपनी कितना अच्छा प्रदर्शन कर रही है और अन्य कारण जैसे प्रासंगिक समाचार। यदि स्टॉक का मूल्य बढ़ता है तो इसे लाभ पर बेचने का विकल्प भी बढ़ जाता है, लेकिन एक निश्चित जोखिम होता है क्योंकि कंपनियां हर समय अच्छा प्रदर्शन नहीं करती हैं इसलिए निवेश का मूल्य भी नीचे जा सकता है।

Crypto क्या है?

Crypto एक डिजिटल संपत्ति है जिसे डिजिटल रूप से क्रिएट किया जा सकता है और डिजिटल रूप से स्टोर भी किया जा सकता है। यह एक प्रकार का decentralized network है जो ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित है। यह डिजिटल रूप में एक मुद्रा है जिसका उपयोग भुगतान के वैकल्पिक रूप के साथ-साथ एक वर्चुअल एकाउंटिंग सिस्टम के रूप में किया जाता है, कुछ बुसिनेस्सेस इन दिनों इनको अपने सामान और सेवाओं के भुगतान के पेमेंट के रूप में स्वीकार कर रहे हैं।इनको क्रिप्टो एक्सचेंजों पर खरीदा, बेचा या कारोबार किया जा सकता है जैसे – Binance ,Coinbase, TradeKIA आदि।

Crypto और Stock market के बीच 3 प्रमुख अंतर

अब तक फाइनेंसियल ग्रोथ के लिए शेयर बाजार में निवेश करना बहुत लोकप्रिय था लेकिन Cryptocurrency के आने के बाद से इन्वेस्टमेंट के क्षेत्र में एक बड़ी क्रांति आई है और हर दिन अधिक से अधिक लोग फाइनेंसियल ग्रोथ के लिए crypto में निवेश कर रहे हैं। जैसा हमने पहले भी कहा स्टॉक और क्रिप्टो दोनों ही मार्किट एक दूसरे से बहुत अलग है। क्रिप्टो, स्टॉक के विपरीत किसी कंपनी के शेयर के स्वामित्व के साथ नहीं आता है।

अस्थिरता

Crypto और स्टॉक दोनों में मूल्य अस्थिरता जोखिम है। उच्च अस्थिरता हाई प्राइस स्विंग (ऊपर और नीचे दोनों) को जन्म दे सकती है। दूसरी ओर, कम अस्थिरता का मतलब संपत्ति में स्थिरता है।

Crypto में भविष्य के मूल्य की अनिश्चितता उन्हें शेयरों की तुलना में अधिक अस्थिर बनाती है। इसके अलावा, crypto बाजार में crypto whale हैं, यानि की ऐसे व्यक्ति और कंपनियां जिनके पास एक विशेष सिक्के की एक बड़ी मात्रा है, वे investors के कार्यों के लिए अधिक असुरक्षित हो जाते हैं। लेकिन आपको हमेशा यह ध्यान रखना चाहिए कि हालांकि स्टॉक जैसे निवेश कम अस्थिर हैं, फिर भी  अनएक्सपेक्टेड कीमतों में उतार-चढ़ाव हो सकता है।

Scams and security risks 

Crypto बाजार तेजी से समय के साथ  एक्सपैंड हो रहा है, लेकिन इनका largely unregulated nature होता है, जिसका अर्थ है कि ये साइबर हमलों से सुरक्षित नहीं हैं। हालाँकि, crypto कंपनियां इसे और अधिक सुरक्षित बनाने की दिशा में बहुत मेहनत कर रही हैं, लेकिन फिर भी जोखिम है, घोटाले अक्सर लोगों के पर्सनल डाटा को प्राप्त करने के लिए किये जाते हैं। अकेले अमेरिका में 2021 में cryptocurrency से जुड़े अपराधों की 80 हजार से अधिक रिपोर्टें थीं।

शेयरों में भी घोटालों का खतरा होता है। Pump-and-dump scheme सबसे प्रसिद्ध स्टॉक घोटालों में से एक है, जहां निवेशकों को स्टॉक खरीदने के लिए गुमराह करने के लिए स्टॉक की कीमत आर्टिफीसियल रूप से बढ़ा दी जाती है। Bernie Madoff जैसे अन्य स्टॉक घोटाले भी हैं।

Trading fee and hours

Crypto में trading fee आमतौर पर शेयरों की तुलना में कम होता है। Crypto में, उपयोगकर्ताओं को शुल्क शुल्क के साथ-साथ गैस शुल्क का भुगतान करना पड़ता है। प्रत्येक crypto exchange का अपना शुल्क होता है, कुछ महंगे होते हैं और कुछ सस्ते होते हैं। इसके अलावा, crypto बाजार हर समय उपलब्ध हैं इसलिए निवेशकों को समय या दिन की परवाह करने की आव्यशकता नहीं होती है।

Stock आपकी जेब पर अधिक दबाव डालते हैं क्योंकि वे crypto से कहीं अधिक महंगे हैं। निवेशकों को अधिक लेनदेन शुल्क का भुगतान करना पड़ता है जो उनके रिटर्न में दिखाई देता है। और, वे केवल business hours के दौरान खुले रहते हैं।